E Shram Card Payment: काफी श्रमिको को नहीं मिले है इ श्रम कार्ड के पैसे, अब इन्हें मिलेगा पैसा देखे list

हमारे भारत के कई असंगठित क्षेत्रों के करोड़ों मजदूरों का डेटाबेस तैयार करने और बनाए रखने के लिए हमारे देश की केंद्र सरकार द्वारा ई-श्रम कार्ड शुरू किया गया है। कहा जाता है कि इस ई-श्रम कार्ड का मुख्य उद्देश्य हमारे देश के सभी करोड़ों श्रमिकों को खुशी प्रदान करना है।

अब तक केंद्र सरकार द्वारा इस कार्ड को लागू किए जाने के बाद से अब तक लगभग करोड़ ई-श्रम कार्ड धारक बन चुके हैं। माना जाता है कि यह ई-श्रम कार्ड के अनुसार देश के श्रमिकों के राष्ट्रीय डेटाबेस के रूप में है। जिसके तहत हमारे देश के श्रम प्रधान मंत्री की घोषणा श्रम मंत्रालय द्वारा वर्तमान प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा की गई थी।

इसका मुख्य लक्ष्य 38 करोड़ से अधिक मजदूरों को इस श्रम कार्य के तहत जोड़ना और उन्हें श्रमिक कार्ड के साथ-साथ खुशी प्रदान करना है। अगर इस कार्ड को देखा जाए तो यह हमारे देश के कामगारों के लिए बहुत फायदेमंद है। जो श्रमिकों को श्रम पेंशन की उपलब्धता है।

आइए जानते हैं इस ई-श्रम कार्ड को बनाने से क्या-क्या फायदे होते हैं:-

यदि आप एक ई-श्रम कार्ड धारक हैं, तो मैं आपके साथ ई-श्रम कार्ड के लाभों के बारे में जानकारी साझा करूँगा जो इस प्रकार है:-

  • ई-श्रम कार्ड से आप देश की सभी प्रकार की केंद्र और राज्य सरकारों की सभी सरकारी योजनाओं का लाभ उठा सकते हैं।
  • इस कार्ड के तहत सरकार द्वारा आपको हर महीने ₹1000 की राशि आपके खाते में आर्थिक सहायता के रूप में प्रदान की जाएगी।
  • इस लेबर कार्ड के माध्यम से भी आपको भविष्य में सरकार द्वारा पेंशन के रूप में एक निश्चित राशि प्रदान की जा सकती है। जिससे आपको बुढ़ापे में किसी भी प्रकार की आर्थिक समस्या का सामना नहीं करना पड़ता है।
  • यदि श्रमिकों के परिवार में कोई पुत्र या पुत्री है तो उसे अपने उज्जवल भविष्य के लिए आगे की पढ़ाई करनी है तो सरकार के अधीन उसे छात्रवृत्ति के रूप में आर्थिक सहायता भी प्रदान की जाएगी जिससे वह आगे बढ़ सके।
  • उनकी आगे की पढ़ाई सुचारू रूप से हुई। रख सकते हो
  • इस कार्ड के तहत सरकार द्वारा श्रमिकों को उनके घरों की मरम्मत और नए घरों के निर्माण के लिए ऋण भी दिया जाएगा।
  • लेबर कार्ड में यदि कोई श्रमिक किसी दुर्घटना में विकलांग हो जाता है तो ऐसी स्थिति में उसे केंद्र सरकार के तहत बीमा के रूप में ₹100000 की राशि प्रदान की जाती है। और इसके विपरीत, यदि श्रमिक की मृत्यु हो जाती है,
  • तो सरकार द्वारा उसके परिवार के सदस्यों को सहायता के रूप में ₹ 200000 की वित्तीय राशि प्रदान की जाती है।

E Shram Card बनवाने के लिए किन दस्तावेजों की आवश्यकता होती है:-

जैसा कि आपने ऊपर पढ़ा होगा कि श्रमिकों के लिए ई-लेबर कार्ड कितने फायदेमंद होते हैं। इसे देखते हुए मैं आपको बता दूं कि यदि आपके माता-पिता ने ई-श्रम कार्ड में पंजीकरण नहीं कराया है और आप इसे अपने और अपने परिवार के सदस्यों के लिए बनाना चाहते हैं, तो उसके लिए कुछ आवश्यक दस्तावेजों की आवश्यकता होती है। जिससे आप लेबर कार्ड बना सकते हैं और इसके कई फायदे ले सकते हैं, आइए जानते हैं क्या है जरूरी दस्तावेज।

  1. नाम और व्यापार
  2. कौशल विवरण
  3. शैक्षिक योग्यता
  4. आधार कार्ड
  5. फोन नंबर आधार कार्ड से लिंक
  6. सही वर्तमान पता विवरण
  7. पारिवारिक विवरण
  8. IFSC कोड के साथ आपका बैंक खाता नंबर

इस E Shram Card को बनाने के लिए क्या योग्यता या योग्यता आवश्यक है:-

मैं आपको इस बात से अवगत करा दूं कि लेबर कार्ड हमारे देश की केंद्र सरकार द्वारा चलाई जा रही कई योजनाओं में से एक है। जिसके तहत हमारे देश के कई श्रमिकों को इससे आर्थिक सहायता मिली है और उन सभी श्रमिकों के उज्ज्वल भविष्य के लिए इस वित्तीय सहायता के साथ-साथ कई अन्य सुविधाओं का भी लाभ मिलता रहेगा.

अगर आप इस लेबर कार्ड के धारक नहीं हैं और आप लेबर कार्ड धारक बनना चाहते हैं, तो इस कार्ड के धारक बनने के लिए आपको किन योग्यताओं की आवश्यकता है, इसकी जानकारी की पुष्टि करना बहुत जरूरी है।

  • कोई भी व्यक्ति जो इस कार्ड के लिए आवेदन करना चाहता है वह भारत का नागरिक होना चाहिए।
  • आवेदक यानी कार्यकर्ता की आयु 16 वर्ष से 59 वर्ष के बीच होनी चाहिए।
  • यह मजदूर हमारे देश में किसी भी प्रकार का आयकर नहीं देता है।
  • आवेदन करने वालों को EPF EPF और EFIC ESIC का सदस्य नहीं होना चाहिए।
  • और वे श्रमिक हमारे देश के असंगठित क्षेत्र में काम करते हैं, यानी वे कार्यरत हैं।

जैसा कि हम सभी जानते हैं कि केंद्र सरकार द्वारा चलाई जा रही ई-श्रम कार्ड योजना ही एकमात्र ऐसी योजना है जिसमें असंगठित क्षेत्रों के श्रमिकों या मजदूरों का एक प्रकार का डाटा बेस होता है।

इसके अलावा, जो कुछ भी उल्लेख किया जा सकता है, जैसे कि आपातकाल की स्थिति, महामारी की स्थिति में, जब सरकार को जनता को वित्तीय सहायता प्रदान करनी होती है, तो संभवतः ई-श्रम कार्ड पर बने डेटाबेस का उपयोग किया जा सकता है। कोरोना जैसी महामारी में भी जनता को आर्थिक सहायता प्रदान की गई।

आपको बता दें कि ई-श्रम कार्ड योजना हमारे देश के पिछड़े और आर्थिक रूप से कमजोर नागरिकों के लिए लाई गई है। यानी कोई भी व्यक्ति जो इस योजना के लिए पात्र नहीं है वह इस योजना का लाभ धोखे से या किसी अन्य तरीके से नहीं लेना चाहिए।

क्या एक परिवार में एक से अधिक ई-श्रम कार्ड धारक हो सकते हैं?

हां, यह संभव है, यह अनिवार्य नहीं है कि एक परिवार का केवल एक सदस्य ही ई-श्रम कार्ड धारक हो सकता है, यदि एक परिवार में दो या दो से अधिक व्यक्तियों के पास ई-श्रम कार्ड बनाने की योग्यता है, तो वे आसानी से ई-श्रम कार्ड बनवा सकते हैं। उनका ई-श्रम कार्ड। लेबर कार्ड बनवा सकते हैं। और सरकार द्वारा लाई गई इस नीति का लाभ कोई भी आसानी से उठा सकता है।

निष्कर्ष:-

सबसे पहले तो आप सभी पाठकों का धन्यवाद जिन्होंने इस लेख को अंत तक पढ़ा। हमें उम्मीद है कि आपको हमारा यह लेख बहुत पसंद आया होगा। अगर आप इस लेख से जुड़े सवाल हमसे कमेंट के जरिए पूछेंगे तो हमें बहुत खुशी होगी।

इस लेख के माध्यम से आपने सभी पाठकों को लेबर कार्ड से संबंधित कुछ महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान की है। अगर आपको यह लेख पसंद आया है, तो आप निश्चित रूप से अपने दोस्तों और रिश्तेदारों तक पहुंचें।